मैं आपको सानिया मिर्जा के बारे में बताऊंगी,सानिया मिर्जा का जन्म 15 नवंबर 1986 को मुंबई में हैदराबाद के मुस्लिम माता पिता इमरान मिर्जा एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट और उनकी पत्नी नसीमा के घर हुआ है

सानिया मिर्जा के बारे में बताऊंगी
सानिया मिर्जा के बारे में बताऊंगी

 प्रारंभिक जीवन


 सानिया मिर्जा का जन्म 15 नवंबर 1986 को मुंबई में हैदराबाद के मुस्लिम माता पिता इमरान मिर्जा एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट और उनकी पत्नी नसीमा के घर हुआ है हुआ था जो एक प्रिंटिंग व्यवसाय के में काम करते थे उनके जन्म के दो जो एक प्रिंटर में अवश्य आएं उनके जन्म के कुछ समय बाद उनका परिवार हैदराबाद चला गया जहां उनकी और छोटी बहन की एक मुस्लिम परिवार में हो हुई वह भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान गुलाम अहमद और पाकिस्तान के आसिफ इकबाल के दूसरे से दूर के रिश्तेदार है उसने 6 साल की उम्र में टेनिस लिया उन्हें उनके पिता और रोज दर्शन नेवी कोचिंग कोचिंग दी है उसने हैदराबाद के नाना सर स्कूल में पढ़ाई की है हालांकि में एक साक्षात्कार में सानिया ने अपने सपने को आगे बढ़ाने की स्वतंत्रता के देने के लिए अपने स्कूल में स्वयं स्कूल में श्रेया दी उसने ना सर को एक घर जिससे वह याद करती है कहा 1% गर्ल्स स्कूल अपने उसने अपने परिणाम की परवाह किए बिना एक टूर्नामेंट के बाद जब भी ना सर में चली तो खुशी के चेहरे को याद  किया इसमें उनका मनोबल और बढ़ा उसने कहा बाद में उन्होंने सेंट मेरिज कॉलेज में स्नातक किया मिर्जा ने 11 दिसंबर 2008 को चेन्नई में एमजी और शैक्षिक और अनूप अनुसंधान संस्थान विद्यालय में डॉक्टर ऑफ ए लेटर की मानद उपाधि प्राप्त की टेनिस के अलावा मिर्जा क्रिकेट और तैराकी में विशेष रूप से अच्छी हैं

 2001 2003 जूनियर आईटीएफ सीकर


 सानिया मिर्जा ने 6 साल की उम्र में 2003 में टेनिस खोलना खेलना शुरू की या वह अपने पिता द्वारा प्रशिक्षित थी मिर्जा ने एक जूनियर खिलाड़ी के रूप में 10 एकल और युगल खिताब जीते उन्होंने 2003 विंबलडन चैंपियन चैंपियनशिप गर्ल्स डबल्स का खिताब खिताब जीता जिसमें अलीशा के लेबा नोवा की भागीदारी थी वह 2003 के यूएस ओपन गर्ल्स डबल्स के सेमीफाइनल में भी पहुंची जिसमें साना भांबरी और 2002 यूएस ओपन गर्ल्स डबल्स के  क्वार्टर फाइनल थे

 2004 और 2005  डब्ल्यूटीए टूर और ग्रैंड इस्लाम की में सफलता टूर्नामेंट


 अपने ग्राहंगल कार्यक्रमों में 2004 एपी टूरिज्म हैदराबाद ओपन मिर्जा एक व्हाई वाइल्ड कार्ड प्रवेश था उसने चौथी वरीयता प्राप्त और अंतिम चैंपियन निकोल पेट के खिलाफ एक अच्छा मुकाबला  रखा लेकिन तीन सेटों में हार गए उन्होंने उसी स्पर्धा में अपना पहला डब्ल्यू ई ट ए युगल खिताब जीता जिसमें लीजिए की भूमिका थी इसके बाद उन्होंने मूर्खों के कैसा ब्लॉक में ग्रैंड प्रिक्स में प्रसिद्ध स्थान करने के लिए एक वाइल्ड कार्ड मिला लेकिन अंतिम चैंपियन में हार का सामना करना पड़ा आईआईटीएस  मिर्जा ने काम भेज गार्डन चैलेंज मेरा नाम अब दिखाया जहां वह शेष इन कराते कराते 666 में गिर गई 2004 में मिर्जा ने छह आईटीएफ एकल खिताब जीते 2005 में आस्ट्रेलियन ओपन में जाने के बाद में जाने मिर्जा ने सिटी वन शंकर का मंडोला को पहले और दूसरे दौर में हराया क्रमश तीसरे दौर में पहुंचने के लिए जहां उसने अंतिम सेट के सीधे जयंती सीधे चैंपियन सेरेना विलियम्स ने हराया फरवरी में मिर्जा डब्ल्यू ए डब्ल्यू पी एस का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी अपने गृहनगर इवेंट एपी टूरिज्म हैदराबाद ओपन को जीतकर फाइनल में नौवीं  वरीयता को 2010 में सबसे ज्यादा सर्च की जाने वाली महिला टेनिस खिलाड़ी और भारतीय खिलाड़ी बना दिया ए जोड़ी में 23 अप्रैल 2018 को सोशल मीडिया पर अपनी पहली गर्भावस्था के घोषणा की अक्टूबर 2018 में शोएब मलिक ने ट्विटर ट्विटर पर घोषणा की थी मिर्जा ने एक बच्चे को जन्म दिया और उसको नाम मिर्जा मलिक  रखा

 Click More

Hinde Storys

 Play Story

 व्यक्तिगत जीवन

 भजनों में सानिया मिर्जा की बचपन की दोस्त सोहराब मिर्जा से सगाई हुई हालांकि कुछ समय बाद शादी को बंद कर दिया गया 12 अप्रैल 2010 को उन्होंने हैदराबाद में ताज कृष्णा होटल में एक पारंपरिक हैदराबाद मुस्लिम विवाह समारोह में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी की भारत में मार के लिए शादी की मिलियन यूएस 193 750 उनका वाली मां समारोह पाकिस्तानी के सियालकोट में आयोजित किया गया था गूगल ट्रैटर ट्रेडर्स के अनुसार शादी की ऑनलाइन ध्यान ने मिर्जा मिर्जा के वरीयता प्राप्त होने वाली पहली भारतीय महिला चुनाव या केवल शक में गिरती है इसके बाद में के बाहर हो गए लेकिन युगल खिताब गीता दुबई टेनिस चैंपियनशिप में खेली लेकिन मल्टी ना इंग्लिश में हार गई इंडियन वेल्स मास्टर्स पर पहुंची लेकिन लेकिन ऊपर लेकिन के लिए खोल दिया फ्रेंड एलेना दामिनी और फ्रेंच ओपन ग्रैंड स्लैम में पहले दौड़ पर अनास्तासिया माया किसने किया में भी हार गई सीड और राउंड ऑफ यूएस ओपन चैंपियन इसने मुझे रोशेल शोभा से आप अपने करियर के सबसे बड़े क्वार्टर फाइनल तक पहुंची पहुंचने के लिए परेशान हो गई विंबलडन चैंपियनशिप के दूसरे दौर में 13 शेटर में कूदने शोवा में हार गई अगस्त में वह मोरी में गिरकर एक सैकड़ा क्लासिक में तीसरे दौर में पहुंच पहुंची मिर्जा ने 500 क्लासिक में अपने दूसरे डब्ल्यू डब्ल्यू ई टी ए फाइनल में पहुंच गए जो लूसी रखवा तक गिर गई मिर्जा एक के चौथे राउंड में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में यूएस ओपन को हराने वाली मत सोना वाशिंगटन मरिया एलिना कैंब्रियन और मेरी मैरिज को खोल खोल से पहले मारिया शारापोवा और सेमीफाइनल में पहुंचने से शारापोवा पर 16 कैरेट में जापान ओपन मिर्जा वाला में कैस्ट्रोल नाकामूरा और पर जीतने के साथ सेमीफाइनल में पहुंचते ताई ना बोले बिन द्वारा प्रबल होने से पहले मेरा जो ना रेवा 2005 में एक सफल सीजन के लिए धन्यवाद मिर्जा को डब्ल्यूटीए न्यू कार में नामित किया गया था

 2006 और 2007 श्रेष्ठ इस सफलता

 मिर्जापुर 2006 ऑस्ट्रेलियन ओपन में ग्रैंड स्लैम इवेंट में सफलता दिखाना शुरू कर दिया क्योंकि उन्होंने अप्रैल 2001 में 15 वर्षीय के रूप में आईपीएस संस्कृत पर अपनी शुरुआत की 2001 के उन की हाईलाइट रेस के पुणे में एक वाटर फाइनल और नई दिल्ली में सेमीफाइनल प्रदर्शन शामली लक्षणों का सीजन शुरू होते ही अपने 30 खिताब जीतने की शुरुआती हार का मौसम बदल दिया और अपने गृहनगर हैदराबाद में पहला और मनी मनीला फिलीपींस में अन्य दो फरवरी 2003 में मिर्जा को अपने गृहनगर में एपी टूरिज्म हैदराबाद ओपन में अपने पहले डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट में खेलने के लिए एक व्हाई वाइल्ड कार्ड दिया गया था वह तीन सेटों में आस्ट्रेलिया के डेविड को बीच से पहले दौर की कड़ी हार का सामना करना पड़ा अगले सप्ताह कतर लेडीस ओपन मेवा पालक व क्वालीफाइंग दौर में चेक और राम लाल होठवा से हार गये उसने फ्रेंड कप में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए तीन चीजें मैच जीते थे उन्होंने 2002 में भूषण में लिएंडर पेस के साथ मिश्रित युगल में मेडिकल जीतने में मदद की इसके अलावा मिर्जा ने चार स्वर्ण पदक जीते पर 2003 एशियाई खेल हैदराबाद में

                                                     धन्यवाद

Post a Comment

0 Comments